New Model Google Ad

Monday, April 9, 2018

Humble Appeal To Indian Citizens

Opposition parties are bent upon disturbing  peace of the country and especially in states where elections are due in near future. They are trying to malign BJP led NDA government  by hook or by crook. They are ready to divide society on caste and communal line to enhance domain of their vote bank at the cost  of loss of lives and properties. They are  really intolerant of Modi and BJP.  There are also few followers of ruling party who are behaving like extremists and engaged in creating divisions in society.

Some people are ready to sacrifice even pride of the country to fulfill their vested interest. It indicates the dangers looming large on peace of the country. Love and mutual respect among people of different caste and communities is at stake. Indian culture of pluralism and that of humanity has been jeopardised by clever and selfish politicians. 

Concept of Parliamentary Democracy is in danger. Media men are adding fuel to fire. Social Sites are being used by anti-national forces to inject hatredness and poison in minds of innocent common men.

It is the time for people of India to apply their wisdom and take their wise decision and thwart  the efforts of anti national forces.

Let us join together to keep our country peaceful. Let us not be swayed away by misinformation campaign launched and  spread by politically ambitious  persons or by anti- nationsl agencies.

Let us take oath to verify  all information before forwarding them to friends and relatives.

If you or anyone dislike Modi or BJP or NDA  you may remove  the party from power by casting votes in favour of parties you like in forthcoming election. Our constitution allows a duly elected government  to rule this country for five  years. Present government has already completed four years. Let us wait for one more year.

Those who hate BJP should plan to defeat Modi in next election instead of disturbing peace and tranquillity of the country and that of disturbing  communal harmony. 

Love and mutual respect is the backbone of development  of a country as well as prosperity of all individuals. Violence and arsoning reduces production activities and creates more unemployment.

Leaders may come to power or may be removed from power by votes. But survival of common men and pride of the country depends on those leaders who are honest in speech , in action and in making of laws and execution of laws.


It is the duty of specially educated class to help the society live in peace and happiness .They should at least refrain ftom spreading hatredness and violence and if possible try to stop others who are indulged in anti_ social activities.

Leaders and parties are elected for five years . But we have to remain and survive for decades. We cannot afford to quarrel  with each other. Mental and social peace only can help us in growing whereas hatredness for others depletes our energy to preform. 

Please do not send negative vibration and negative energy because it harms more to ourselves  than to others.  We invite persons, things and situation of the quality which we think speak or act in real life.

Message received on Facebook in response to above is submitted below.

वह देशद्रोही होगा जो कभी भी देश की सम्पति को नुकसान करेगा क्योंकि ये हम लोगों की खून पसीने की कमाई होती है नाकि पॉलिटिशियन की खून पसीने की कमाई। देश हित हमारा हित तभी तो हम सभ्य कहलाने के अधिकारी होंगें।
देश की सम्पति का विनाश हमारा खुद का विनाश।

क्या किशी ने अपने घर मे किशी भी कारण से अपनी गाड़ी को नुकशान पहुचाया।

उसका तो हम बीमा करवा कर safe होते हैं हर साल क्यों। बताइये।चाहे उसको कुछ भी ना होना हो।

एक बार कोई भी वस्तु जो खत्म कर दी जाती है उसका नुकसान हमें दो रूप में भुगतना पड़ता है।

1।एक तो उस चीज की कमी जैसे बसों की कमी से भीड़ भी शीट भी नही मिलती किराया भी देना पड़ता।

2।दुबारा जब वह खरीदी जाएगी वह किसकी कमाई से निकाली जाईगी । हमारी से। महंगाई हम पर पड़ेगी।

देश हित मे इस को तब तक facebook व्हाटसएप्प पर तब तक जारी रखो जब तक कि सब की समझ मे ये ना आ जाये कि ये तो हम अपना नुकशान अपने पैरों पर स्वयं कुल्हाड़ी मार रहे हैं।

आपको केवल एक काम करना है कृपया इसको जितना ज्यादा कॉपी करके अपने अपने तरीके से facebook व्हाट्सएप व मेसेंजर पर अभी अभी व आगे भी तब तक जारी रखो जब तक कि सबकी समझ मे आ जाये।

 धनयवाद आपकी सहभागिता की जरूरत समझता हूं।


Another excellent  message received in WhatsApp group is as follows.

- हिंदुओं को लग रहा है कि आने वाले कुछ वर्षों में भारत मुस्लिम राष्ट्र बन जाएगा और भारत में औरंगजेब शासन आ जाएगा।
- मुस्लिमों को लग रहा है कि RSS कुछ ही दिनों में ISIS जैसा खूंखार संगठन बन जाएगा और आतंकवाद का रंग भगवा हो जाएगा।

- दलितों को लग रहा कि जल्द ही नई संविधान सभा गठित होने वाली है जिसमें मनुस्मृति के नियमों को लागू किया जाना है और उनके विकास में रिवर्स गियर लग जाएगा जो उन्हें सीधे उत्तर वैदिक काल में ले जाएगा।

- सवर्ण को लग रहा है कि आरक्षण की वजह से उसकी युवा पीढ़ी बेरोजगार और बेचारी होती जा रही है।

ये सभी कल्पनाएँ कहाँ से उपजीं?
 क्या वास्तव में हमारे आसपास ऐसे हालात पनप रहें हैं या कुछ और??

अगर हम ईमानदारी से विश्लेषण करें तो पाएंगे कि असल में ये सारी अवधारणाएं वाट्सऐप और फेसबुक पर अंधाधुंध फैलाए जा रहे उन्मादी कापी पेस्ट का नतीजा हैं।

ये कापी पेस्ट लंबे लंबे मैसेज,भड़काऊ फोटो और तमाम वीडियो की शक्ल में बहुतायत से प्रचलित हैं।

अगर हम सोशल मीडिया की छद्म दुनिया से निकलकर अपने आसपास लोगों को देखें तो यकीनन एक सौहार्दपूर्ण भारत नज़र आएगा.. लेकिन अगर हम अभी भी नहीं चेते और इन्हीं वाहियात फारवर्डेड मैसेजों के आधार पर दूसरों के लिए अपनी अवधारणाएं बनाते रहे तो यह भी संभावना है कि पास में खड़ा आदमी अचानक हमला कर बैठे।

ये सब राजनैतिक प्रयोजन हैं इनमें उलझने से हमारी जानें जाएंगी, हमारे घर जलेंगे यहां तक कि पुलिस भी हमें ही धुनेगी..... सत्ता की पंजीरी वे लूटेंगे जिन्होंने मैसेजों की बमबारी के लिए आईटी कम्पनियां नियुक्त की हैं....

इसलिए.... सावधान रहिये ... नफरत फैलाने वाली कोई भी पोस्ट शेयर न करें। हम अभी भी अजनबियों को चाचा ताऊ भैया दद्दा कहने वाली संस्कृति के वाहक हैं। हममें से कोई नहीं है जो जाति पूछकर  संबोधन करता हो। सोशल मीडिया से फैलती आग में जलने और समाज को जलाने से बचें और जातिगत व धार्मिक नफरत फैलाने वाले ग्रुपों को एक्जिट करें फिर देखिए हमारा परिवेश कितना सौहार्दपूर्ण होगा।

जय हिन्द

No comments:

Post a Comment

Use This Safe Link To Buy Goods Of Your Choice